"सितम ढाने की भी हद होती है
पास ना आने और रूठ जाने की भी हद होती है
एक डेट तो कर ले जालिम
पैसा बचाने की भी हद होती है...।।

"मुहब्बत ना सही मुकदमा ही कर दे
तारीख दर तारीखमुलाकात तो होगी...।।

"आपकी याद में एक शायर अर्ज़ किया है
आज है मंगल कल था पीर-वह-वह
कभी तो कुछ भेजा कर फकीर...।।

"अर्ज किया है...
हटा लो अपने चेहरे से ये जुल्फे
ऐ जाने तमन्ना.... खुदा कसम...
अगली बार खाने में बाल आया तो
सजनी से गजनी बना दूंगा...।।

"अर्ज़ किया है...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
गौर फरमाइएगा...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
अच्छी तभी लगती है जब दूसरे की होती है...।।

"मुझसे वो कहती है कि तुम्हारी जिन्दगी को जन्नत बना दूंगी
जब की बनाना उसे दाल , चावल भी नही...।।

"पति - मुझे अजीब सी बीमारी हुई है
मेरी बीवी जब बोलती है तो मुझे सुनाई नहीं देता
हकीम - माशाल्लाह ये बीमारी नहीं
ये तुम पर खुदा की रहमत...।।

"एक थी चाय एक था बिस्किट फिर मत पूछो क्या हुआ
डूब गया बेचारा बिस्किट चाय के इश्क में...।।

"चूहे को लगी बिल्ली गोरी गोरी
दोनों मिलने लगे चोरी चोरी
चूहा बुलाया आओ खेलें आँख मिचोली
बिल्ली चूहे को खा कर बोली. jaanu sorry...।।

"जुल्फों में फूलों को सजा के आयी
चेहरे से दुपट्टा उठा के आयी
किसी ने पूछा आज बड़ी खुबसूरत लग रही है
हमने कहा शायद आज नहा के आयी...।।

"आप दिल पर न मेरे यूँ वार कीजिये
छोड़ो ये नफरत थोड़ा प्यार कीजिये
करवा देंगे हम आपकी अच्छी जगह शादी
तब तक हमारे साथ आँखें चार कीजिये...।।

"गर्लफ्रेड : अरे जानु कोई फनी शायरी
सुनाओ ना
बॉयफ्रेंड - डायन सा चेहरा तेरा
चूडेल सी तेरी मुस्कान है
रंग तेरा देख के
रूप तेरा देख के
भेंस भी हैरान है...।।

"उसने कहा कि मुझे मोहब्बत की सजा दो
मैंने जाके सब कुछ उसकी मम्मी को बता दिया...।।

"दोस्ती बुरी हो तो होने उसे मत दो
अगर हो गयी तो उसे खोने मत दो
और अगर दोस्त हो सबसे प्यारा तो
उसे चैन की नींद सोने मत दो...।।

"मोहब्बत हो गई है डाकू सुल्ताना के बेटी से
न जाने किस गली में ज़िन्दगी की शाम हो जाये...।।

"मेरा दोस्त मुझसे यह कह कर दूर चला गया फ़राज़
कि दोस्ती दूर की अच्छी रोटी तंदूर की अच्छी...।।

"पहली बार किसी चेहरे पर निगाह ठहरी है
उसकी आंखे सागर से भी गहरी है
थक गया मैं अपने प्यार का इजहार
करते करते तब पता चला कि वो तो बहरी है...।।

"तू सवाल नहीं एक पहेली है
मेरी मंजिल तू नहीं तेरी सहेली है...।।

"तुम थोड़ी सी ‪फुलझड़ी‬ क्या हुई
पूरा मौहल्ला ही ‪माचिस‬ हो गया...।।

"मोहब्बत करली तुमसे बहुत सोचने के बाद
अब किसी को देखना नहीं तुम्हे देखने के बाद
दुनिया छोड़ देंगे तुम्हे पाने के बाद
खुदा माफ़ करे इतना झूठ बोलने के बाद...।।

"दिल का दर्द दिल तोड़ने वाला क्या जाने
प्यार के रिवाज़ों को ये ज़माना क्या जाने
कितनी तकलीफ़ होती है लड़की पटाने में
यह घर बैठा लड़की का बाप क्या जाने...।।

"हम हम हैं तुम तुम हो
ना तुम कम हो ना हम कम हैं
तो किस बात का गम है SMS भेजते रहो
तभी तो लगेगा कि मोबाइल वाली में दम है...।।

"ये जो लड़कियों के बाल होते हैं
लड़कों को फ़साने के जाल होते हैं
खून चूस लेती हैं लड़कों का सारा
तभी तो इनके होंठ लाल होते हैं...।।

"अपने दिल में रहने दो ना मुझे
कसम से बाहर बहुत गर्मी है...।।

"पता नहीं आज कल लोग बड़ा सताने लगे
मुझे भाई और तुम्हें भाभी कहने लगे...।।

"सावन आते ही मुरझाए फूल भी खिल जाते हैं
SMS फ्री क्या हुए तुम जैसे फोकट में शायर बन जाते हैं...।।

"बैठ कर अपनी महबूबा की जुल्फों के साए में ऐसा जोश आया
वाह वाह! वाह वाह!
फिर… फिर..?
……
……
……
उसके बाप ने देख लिया और I.C.U. में होश आया...।।

"कसम से हर एक लड़की भुला दूंगा
सब ही की तस्वीरें जला दूंगा
एक तुम ही रहोगी इस दिल में
बैलेंस डलवा दो बहुत दुआ दूंगा...।।

"कहने को तो कीचड़ मे भी हम कमल खिला दे
मगर कुछ सोच के रुक जाते हैं
तुम कांटो मे जीने की बात करते हो
हम तो कांटो को भी फूल बना देते हैं...।।

"न चांद होगा ना तारे होंगे
क्या हम इस साल भी कुंवारे होंगे
इस दुनिया में कितनों के निकाह हो गए
क्या हमारे नसीब में सिर्फ निकाह के छुहारे होंगे...।।

"आयेंगे तेरी गली में चाहे देर क्यू न हो जाये
करेंगे मोहब्बत तुझसे ही चाहे जेल क्यू न हो जाये...।।

"ऐसी वाणी बोलिए जमकर झगड़ा होए ऐसी वाणी
बोलिए जमकर झगड़ा होए पर उससे ना बोलिए जो आपसे तगड़ा होए...।।

"आलू क्या गोभी भी खाया करो
आलू क्या गोभी भी खाया करो
उस गली में रहने वाली
कभी कभी हमारी गली भी आया करो...।।

"जिस चेहरे को देख कर हस्ते थे हम
आज उसीने ‘रुला दिया’ खुद ने तो फोन किया नही
हमने किया तो कॉलर ट्यून… ‘तुझे भुला दिया’...।।

"कितना ही जानलेवा फिगर क्यों न हो तेरा.. पर सुन पगली
ईतना मत ईतरा हमारी तारीफ के बीना सब अधूरा है...।।

"सितम ढाने की भी हद होती है
पास ना आने और रूठ जाने की भी हद होती है
एक डेट तो कर ले जालिम
पैसा बचाने की भी हद होती है...।।

"मुहब्बत ना सही मुकदमा ही कर दे
तारीख दर तारीखमुलाकात तो होगी...।।

"आपकी याद में एक शायर अर्ज़ किया है
आज है मंगल कल था पीर-वह-वह
कभी तो कुछ भेजा कर फकीर...।।

"अर्ज किया है...
हटा लो अपने चेहरे से ये जुल्फे
ऐ जाने तमन्ना.... खुदा कसम...
अगली बार खाने में बाल आया तो
सजनी से गजनी बना दूंगा...।।

"अर्ज़ किया है...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
गौर फरमाइएगा...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
अच्छी तभी लगती है जब दूसरे की होती है...।।

"मुझसे वो कहती है कि तुम्हारी जिन्दगी को जन्नत बना दूंगी
जब की बनाना उसे दाल , चावल भी नही...।।

"पति - मुझे अजीब सी बीमारी हुई है
मेरी बीवी जब बोलती है तो मुझे सुनाई नहीं देता
हकीम - माशाल्लाह ये बीमारी नहीं
ये तुम पर खुदा की रहमत...।।

"एक थी चाय एक था बिस्किट फिर मत पूछो क्या हुआ
डूब गया बेचारा बिस्किट चाय के इश्क में...।।

"चूहे को लगी बिल्ली गोरी गोरी
दोनों मिलने लगे चोरी चोरी
चूहा बुलाया आओ खेलें आँख मिचोली
बिल्ली चूहे को खा कर बोली. jaanu sorry...।।

"जुल्फों में फूलों को सजा के आयी
चेहरे से दुपट्टा उठा के आयी
किसी ने पूछा आज बड़ी खुबसूरत लग रही है
हमने कहा शायद आज नहा के आयी...।।

"आप दिल पर न मेरे यूँ वार कीजिये
छोड़ो ये नफरत थोड़ा प्यार कीजिये
करवा देंगे हम आपकी अच्छी जगह शादी
तब तक हमारे साथ आँखें चार कीजिये...।।

"गर्लफ्रेड : अरे जानु कोई फनी शायरी
सुनाओ ना
बॉयफ्रेंड - डायन सा चेहरा तेरा
चूडेल सी तेरी मुस्कान है
रंग तेरा देख के
रूप तेरा देख के
भेंस भी हैरान है...।।

"उसने कहा कि मुझे मोहब्बत की सजा दो
मैंने जाके सब कुछ उसकी मम्मी को बता दिया...।।

"दोस्ती बुरी हो तो होने उसे मत दो
अगर हो गयी तो उसे खोने मत दो
और अगर दोस्त हो सबसे प्यारा तो
उसे चैन की नींद सोने मत दो...।।

"मोहब्बत हो गई है डाकू सुल्ताना के बेटी से
न जाने किस गली में ज़िन्दगी की शाम हो जाये...।।

"मेरा दोस्त मुझसे यह कह कर दूर चला गया फ़राज़
कि दोस्ती दूर की अच्छी रोटी तंदूर की अच्छी...।।

"पहली बार किसी चेहरे पर निगाह ठहरी है
उसकी आंखे सागर से भी गहरी है
थक गया मैं अपने प्यार का इजहार
करते करते तब पता चला कि वो तो बहरी है...।।

"तू सवाल नहीं एक पहेली है
मेरी मंजिल तू नहीं तेरी सहेली है...।।

"तुम थोड़ी सी ‪फुलझड़ी‬ क्या हुई
पूरा मौहल्ला ही ‪माचिस‬ हो गया...।।

"मोहब्बत करली तुमसे बहुत सोचने के बाद
अब किसी को देखना नहीं तुम्हे देखने के बाद
दुनिया छोड़ देंगे तुम्हे पाने के बाद
खुदा माफ़ करे इतना झूठ बोलने के बाद...।।

"दिल का दर्द दिल तोड़ने वाला क्या जाने
प्यार के रिवाज़ों को ये ज़माना क्या जाने
कितनी तकलीफ़ होती है लड़की पटाने में
यह घर बैठा लड़की का बाप क्या जाने...।।

"हम हम हैं तुम तुम हो
ना तुम कम हो ना हम कम हैं
तो किस बात का गम है SMS भेजते रहो
तभी तो लगेगा कि मोबाइल वाली में दम है...।।

"ये जो लड़कियों के बाल होते हैं
लड़कों को फ़साने के जाल होते हैं
खून चूस लेती हैं लड़कों का सारा
तभी तो इनके होंठ लाल होते हैं...।।

"अपने दिल में रहने दो ना मुझे
कसम से बाहर बहुत गर्मी है...।।

"पता नहीं आज कल लोग बड़ा सताने लगे
मुझे भाई और तुम्हें भाभी कहने लगे...।।

"सावन आते ही मुरझाए फूल भी खिल जाते हैं
SMS फ्री क्या हुए तुम जैसे फोकट में शायर बन जाते हैं...।।

"बैठ कर अपनी महबूबा की जुल्फों के साए में ऐसा जोश आया
वाह वाह! वाह वाह!
फिर… फिर..?
……
……
……
उसके बाप ने देख लिया और I.C.U. में होश आया...।।

"कसम से हर एक लड़की भुला दूंगा
सब ही की तस्वीरें जला दूंगा
एक तुम ही रहोगी इस दिल में
बैलेंस डलवा दो बहुत दुआ दूंगा...।।

"कहने को तो कीचड़ मे भी हम कमल खिला दे
मगर कुछ सोच के रुक जाते हैं
तुम कांटो मे जीने की बात करते हो
हम तो कांटो को भी फूल बना देते हैं...।।

"न चांद होगा ना तारे होंगे
क्या हम इस साल भी कुंवारे होंगे
इस दुनिया में कितनों के निकाह हो गए
क्या हमारे नसीब में सिर्फ निकाह के छुहारे होंगे...।।

"आयेंगे तेरी गली में चाहे देर क्यू न हो जाये
करेंगे मोहब्बत तुझसे ही चाहे जेल क्यू न हो जाये...।।

"ऐसी वाणी बोलिए जमकर झगड़ा होए ऐसी वाणी
बोलिए जमकर झगड़ा होए पर उससे ना बोलिए जो आपसे तगड़ा होए...।।

"आलू क्या गोभी भी खाया करो
आलू क्या गोभी भी खाया करो
उस गली में रहने वाली
कभी कभी हमारी गली भी आया करो...।।

"जिस चेहरे को देख कर हस्ते थे हम
आज उसीने ‘रुला दिया’ खुद ने तो फोन किया नही
हमने किया तो कॉलर ट्यून… ‘तुझे भुला दिया’...।।

"कितना ही जानलेवा फिगर क्यों न हो तेरा.. पर सुन पगली
ईतना मत ईतरा हमारी तारीफ के बीना सब अधूरा है...।।

"सितम ढाने की भी हद होती है
पास ना आने और रूठ जाने की भी हद होती है
एक डेट तो कर ले जालिम
पैसा बचाने की भी हद होती है...।।

"मुहब्बत ना सही मुकदमा ही कर दे
तारीख दर तारीखमुलाकात तो होगी...।।

"आपकी याद में एक शायर अर्ज़ किया है
आज है मंगल कल था पीर-वह-वह
कभी तो कुछ भेजा कर फकीर...।।

"अर्ज किया है...
हटा लो अपने चेहरे से ये जुल्फे
ऐ जाने तमन्ना.... खुदा कसम...
अगली बार खाने में बाल आया तो
सजनी से गजनी बना दूंगा...।।

"अर्ज़ किया है...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
गौर फरमाइएगा...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
अच्छी तभी लगती है जब दूसरे की होती है...।।

"मुझसे वो कहती है कि तुम्हारी जिन्दगी को जन्नत बना दूंगी
जब की बनाना उसे दाल , चावल भी नही...।।

"पति - मुझे अजीब सी बीमारी हुई है
मेरी बीवी जब बोलती है तो मुझे सुनाई नहीं देता
हकीम - माशाल्लाह ये बीमारी नहीं
ये तुम पर खुदा की रहमत...।।

"एक थी चाय एक था बिस्किट फिर मत पूछो क्या हुआ
डूब गया बेचारा बिस्किट चाय के इश्क में...।।

"चूहे को लगी बिल्ली गोरी गोरी
दोनों मिलने लगे चोरी चोरी
चूहा बुलाया आओ खेलें आँख मिचोली
बिल्ली चूहे को खा कर बोली. jaanu sorry...।।

"जुल्फों में फूलों को सजा के आयी
चेहरे से दुपट्टा उठा के आयी
किसी ने पूछा आज बड़ी खुबसूरत लग रही है
हमने कहा शायद आज नहा के आयी...।।

"आप दिल पर न मेरे यूँ वार कीजिये
छोड़ो ये नफरत थोड़ा प्यार कीजिये
करवा देंगे हम आपकी अच्छी जगह शादी
तब तक हमारे साथ आँखें चार कीजिये...।।

"गर्लफ्रेड : अरे जानु कोई फनी शायरी
सुनाओ ना
बॉयफ्रेंड - डायन सा चेहरा तेरा
चूडेल सी तेरी मुस्कान है
रंग तेरा देख के
रूप तेरा देख के
भेंस भी हैरान है...।।

"उसने कहा कि मुझे मोहब्बत की सजा दो
मैंने जाके सब कुछ उसकी मम्मी को बता दिया...।।

"दोस्ती बुरी हो तो होने उसे मत दो
अगर हो गयी तो उसे खोने मत दो
और अगर दोस्त हो सबसे प्यारा तो
उसे चैन की नींद सोने मत दो...।।

"मोहब्बत हो गई है डाकू सुल्ताना के बेटी से
न जाने किस गली में ज़िन्दगी की शाम हो जाये...।।

"मेरा दोस्त मुझसे यह कह कर दूर चला गया फ़राज़
कि दोस्ती दूर की अच्छी रोटी तंदूर की अच्छी...।।

"पहली बार किसी चेहरे पर निगाह ठहरी है
उसकी आंखे सागर से भी गहरी है
थक गया मैं अपने प्यार का इजहार
करते करते तब पता चला कि वो तो बहरी है...।।

"तू सवाल नहीं एक पहेली है
मेरी मंजिल तू नहीं तेरी सहेली है...।।

"तुम थोड़ी सी ‪फुलझड़ी‬ क्या हुई
पूरा मौहल्ला ही ‪माचिस‬ हो गया...।।

"मोहब्बत करली तुमसे बहुत सोचने के बाद
अब किसी को देखना नहीं तुम्हे देखने के बाद
दुनिया छोड़ देंगे तुम्हे पाने के बाद
खुदा माफ़ करे इतना झूठ बोलने के बाद...।।

"दिल का दर्द दिल तोड़ने वाला क्या जाने
प्यार के रिवाज़ों को ये ज़माना क्या जाने
कितनी तकलीफ़ होती है लड़की पटाने में
यह घर बैठा लड़की का बाप क्या जाने...।।

"हम हम हैं तुम तुम हो
ना तुम कम हो ना हम कम हैं
तो किस बात का गम है SMS भेजते रहो
तभी तो लगेगा कि मोबाइल वाली में दम है...।।

"ये जो लड़कियों के बाल होते हैं
लड़कों को फ़साने के जाल होते हैं
खून चूस लेती हैं लड़कों का सारा
तभी तो इनके होंठ लाल होते हैं...।।

"अपने दिल में रहने दो ना मुझे
कसम से बाहर बहुत गर्मी है...।।

"पता नहीं आज कल लोग बड़ा सताने लगे
मुझे भाई और तुम्हें भाभी कहने लगे...।।

"सावन आते ही मुरझाए फूल भी खिल जाते हैं
SMS फ्री क्या हुए तुम जैसे फोकट में शायर बन जाते हैं...।।

"बैठ कर अपनी महबूबा की जुल्फों के साए में ऐसा जोश आया
वाह वाह! वाह वाह!
फिर… फिर..?
……
……
……
उसके बाप ने देख लिया और I.C.U. में होश आया...।।

"कसम से हर एक लड़की भुला दूंगा
सब ही की तस्वीरें जला दूंगा
एक तुम ही रहोगी इस दिल में
बैलेंस डलवा दो बहुत दुआ दूंगा...।।

"कहने को तो कीचड़ मे भी हम कमल खिला दे
मगर कुछ सोच के रुक जाते हैं
तुम कांटो मे जीने की बात करते हो
हम तो कांटो को भी फूल बना देते हैं...।।

"न चांद होगा ना तारे होंगे
क्या हम इस साल भी कुंवारे होंगे
इस दुनिया में कितनों के निकाह हो गए
क्या हमारे नसीब में सिर्फ निकाह के छुहारे होंगे...।।

"आयेंगे तेरी गली में चाहे देर क्यू न हो जाये
करेंगे मोहब्बत तुझसे ही चाहे जेल क्यू न हो जाये...।।

"ऐसी वाणी बोलिए जमकर झगड़ा होए ऐसी वाणी
बोलिए जमकर झगड़ा होए पर उससे ना बोलिए जो आपसे तगड़ा होए...।।

"आलू क्या गोभी भी खाया करो
आलू क्या गोभी भी खाया करो
उस गली में रहने वाली
कभी कभी हमारी गली भी आया करो...।।

"जिस चेहरे को देख कर हस्ते थे हम
आज उसीने ‘रुला दिया’ खुद ने तो फोन किया नही
हमने किया तो कॉलर ट्यून… ‘तुझे भुला दिया’...।।

"कितना ही जानलेवा फिगर क्यों न हो तेरा.. पर सुन पगली
ईतना मत ईतरा हमारी तारीफ के बीना सब अधूरा है...।।

"सितम ढाने की भी हद होती है
पास ना आने और रूठ जाने की भी हद होती है
एक डेट तो कर ले जालिम
पैसा बचाने की भी हद होती है...।।

"मुहब्बत ना सही मुकदमा ही कर दे
तारीख दर तारीखमुलाकात तो होगी...।।

"आपकी याद में एक शायर अर्ज़ किया है
आज है मंगल कल था पीर-वह-वह
कभी तो कुछ भेजा कर फकीर...।।

"अर्ज किया है...
हटा लो अपने चेहरे से ये जुल्फे
ऐ जाने तमन्ना.... खुदा कसम...
अगली बार खाने में बाल आया तो
सजनी से गजनी बना दूंगा...।।

"अर्ज़ किया है...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
गौर फरमाइएगा...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
अच्छी तभी लगती है जब दूसरे की होती है...।।

"मुझसे वो कहती है कि तुम्हारी जिन्दगी को जन्नत बना दूंगी
जब की बनाना उसे दाल , चावल भी नही...।।

"पति - मुझे अजीब सी बीमारी हुई है
मेरी बीवी जब बोलती है तो मुझे सुनाई नहीं देता
हकीम - माशाल्लाह ये बीमारी नहीं
ये तुम पर खुदा की रहमत...।।

"एक थी चाय एक था बिस्किट फिर मत पूछो क्या हुआ
डूब गया बेचारा बिस्किट चाय के इश्क में...।।

"चूहे को लगी बिल्ली गोरी गोरी
दोनों मिलने लगे चोरी चोरी
चूहा बुलाया आओ खेलें आँख मिचोली
बिल्ली चूहे को खा कर बोली. jaanu sorry...।।

"जुल्फों में फूलों को सजा के आयी
चेहरे से दुपट्टा उठा के आयी
किसी ने पूछा आज बड़ी खुबसूरत लग रही है
हमने कहा शायद आज नहा के आयी...।।

"आप दिल पर न मेरे यूँ वार कीजिये
छोड़ो ये नफरत थोड़ा प्यार कीजिये
करवा देंगे हम आपकी अच्छी जगह शादी
तब तक हमारे साथ आँखें चार कीजिये...।।

"गर्लफ्रेड : अरे जानु कोई फनी शायरी
सुनाओ ना
बॉयफ्रेंड - डायन सा चेहरा तेरा
चूडेल सी तेरी मुस्कान है
रंग तेरा देख के
रूप तेरा देख के
भेंस भी हैरान है...।।

"उसने कहा कि मुझे मोहब्बत की सजा दो
मैंने जाके सब कुछ उसकी मम्मी को बता दिया...।।

"दोस्ती बुरी हो तो होने उसे मत दो
अगर हो गयी तो उसे खोने मत दो
और अगर दोस्त हो सबसे प्यारा तो
उसे चैन की नींद सोने मत दो...।।

"मोहब्बत हो गई है डाकू सुल्ताना के बेटी से
न जाने किस गली में ज़िन्दगी की शाम हो जाये...।।

"मेरा दोस्त मुझसे यह कह कर दूर चला गया फ़राज़
कि दोस्ती दूर की अच्छी रोटी तंदूर की अच्छी...।।

"पहली बार किसी चेहरे पर निगाह ठहरी है
उसकी आंखे सागर से भी गहरी है
थक गया मैं अपने प्यार का इजहार
करते करते तब पता चला कि वो तो बहरी है...।।

"तू सवाल नहीं एक पहेली है
मेरी मंजिल तू नहीं तेरी सहेली है...।।

"तुम थोड़ी सी ‪फुलझड़ी‬ क्या हुई
पूरा मौहल्ला ही ‪माचिस‬ हो गया...।।

"मोहब्बत करली तुमसे बहुत सोचने के बाद
अब किसी को देखना नहीं तुम्हे देखने के बाद
दुनिया छोड़ देंगे तुम्हे पाने के बाद
खुदा माफ़ करे इतना झूठ बोलने के बाद...।।

"दिल का दर्द दिल तोड़ने वाला क्या जाने
प्यार के रिवाज़ों को ये ज़माना क्या जाने
कितनी तकलीफ़ होती है लड़की पटाने में
यह घर बैठा लड़की का बाप क्या जाने...।।

"हम हम हैं तुम तुम हो
ना तुम कम हो ना हम कम हैं
तो किस बात का गम है SMS भेजते रहो
तभी तो लगेगा कि मोबाइल वाली में दम है...।।

"ये जो लड़कियों के बाल होते हैं
लड़कों को फ़साने के जाल होते हैं
खून चूस लेती हैं लड़कों का सारा
तभी तो इनके होंठ लाल होते हैं...।।

"अपने दिल में रहने दो ना मुझे
कसम से बाहर बहुत गर्मी है...।।

"पता नहीं आज कल लोग बड़ा सताने लगे
मुझे भाई और तुम्हें भाभी कहने लगे...।।

"सावन आते ही मुरझाए फूल भी खिल जाते हैं
SMS फ्री क्या हुए तुम जैसे फोकट में शायर बन जाते हैं...।।

"बैठ कर अपनी महबूबा की जुल्फों के साए में ऐसा जोश आया
वाह वाह! वाह वाह!
फिर… फिर..?
……
……
……
उसके बाप ने देख लिया और I.C.U. में होश आया...।।

"कसम से हर एक लड़की भुला दूंगा
सब ही की तस्वीरें जला दूंगा
एक तुम ही रहोगी इस दिल में
बैलेंस डलवा दो बहुत दुआ दूंगा...।।

"कहने को तो कीचड़ मे भी हम कमल खिला दे
मगर कुछ सोच के रुक जाते हैं
तुम कांटो मे जीने की बात करते हो
हम तो कांटो को भी फूल बना देते हैं...।।

"न चांद होगा ना तारे होंगे
क्या हम इस साल भी कुंवारे होंगे
इस दुनिया में कितनों के निकाह हो गए
क्या हमारे नसीब में सिर्फ निकाह के छुहारे होंगे...।।

"आयेंगे तेरी गली में चाहे देर क्यू न हो जाये
करेंगे मोहब्बत तुझसे ही चाहे जेल क्यू न हो जाये...।।

"ऐसी वाणी बोलिए जमकर झगड़ा होए ऐसी वाणी
बोलिए जमकर झगड़ा होए पर उससे ना बोलिए जो आपसे तगड़ा होए...।।

"आलू क्या गोभी भी खाया करो
आलू क्या गोभी भी खाया करो
उस गली में रहने वाली
कभी कभी हमारी गली भी आया करो...।।

"जिस चेहरे को देख कर हस्ते थे हम
आज उसीने ‘रुला दिया’ खुद ने तो फोन किया नही
हमने किया तो कॉलर ट्यून… ‘तुझे भुला दिया’...।।

"कितना ही जानलेवा फिगर क्यों न हो तेरा.. पर सुन पगली
ईतना मत ईतरा हमारी तारीफ के बीना सब अधूरा है...।।

"सितम ढाने की भी हद होती है
पास ना आने और रूठ जाने की भी हद होती है
एक डेट तो कर ले जालिम
पैसा बचाने की भी हद होती है...।।

"मुहब्बत ना सही मुकदमा ही कर दे
तारीख दर तारीखमुलाकात तो होगी...।।

"आपकी याद में एक शायर अर्ज़ किया है
आज है मंगल कल था पीर-वह-वह
कभी तो कुछ भेजा कर फकीर...।।

"अर्ज किया है...
हटा लो अपने चेहरे से ये जुल्फे
ऐ जाने तमन्ना.... खुदा कसम...
अगली बार खाने में बाल आया तो
सजनी से गजनी बना दूंगा...।।

"अर्ज़ किया है...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
गौर फरमाइएगा...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
अच्छी तभी लगती है जब दूसरे की होती है...।।

"मुझसे वो कहती है कि तुम्हारी जिन्दगी को जन्नत बना दूंगी
जब की बनाना उसे दाल , चावल भी नही...।।

"पति - मुझे अजीब सी बीमारी हुई है
मेरी बीवी जब बोलती है तो मुझे सुनाई नहीं देता
हकीम - माशाल्लाह ये बीमारी नहीं
ये तुम पर खुदा की रहमत...।।

"एक थी चाय एक था बिस्किट फिर मत पूछो क्या हुआ
डूब गया बेचारा बिस्किट चाय के इश्क में...।।

"चूहे को लगी बिल्ली गोरी गोरी
दोनों मिलने लगे चोरी चोरी
चूहा बुलाया आओ खेलें आँख मिचोली
बिल्ली चूहे को खा कर बोली. jaanu sorry...।।

"जुल्फों में फूलों को सजा के आयी
चेहरे से दुपट्टा उठा के आयी
किसी ने पूछा आज बड़ी खुबसूरत लग रही है
हमने कहा शायद आज नहा के आयी...।।

"आप दिल पर न मेरे यूँ वार कीजिये
छोड़ो ये नफरत थोड़ा प्यार कीजिये
करवा देंगे हम आपकी अच्छी जगह शादी
तब तक हमारे साथ आँखें चार कीजिये...।।

"गर्लफ्रेड : अरे जानु कोई फनी शायरी
सुनाओ ना
बॉयफ्रेंड - डायन सा चेहरा तेरा
चूडेल सी तेरी मुस्कान है
रंग तेरा देख के
रूप तेरा देख के
भेंस भी हैरान है...।।

"उसने कहा कि मुझे मोहब्बत की सजा दो
मैंने जाके सब कुछ उसकी मम्मी को बता दिया...।।

"दोस्ती बुरी हो तो होने उसे मत दो
अगर हो गयी तो उसे खोने मत दो
और अगर दोस्त हो सबसे प्यारा तो
उसे चैन की नींद सोने मत दो...।।

"मोहब्बत हो गई है डाकू सुल्ताना के बेटी से
न जाने किस गली में ज़िन्दगी की शाम हो जाये...।।

"मेरा दोस्त मुझसे यह कह कर दूर चला गया फ़राज़
कि दोस्ती दूर की अच्छी रोटी तंदूर की अच्छी...।।

"पहली बार किसी चेहरे पर निगाह ठहरी है
उसकी आंखे सागर से भी गहरी है
थक गया मैं अपने प्यार का इजहार
करते करते तब पता चला कि वो तो बहरी है...।।

"तू सवाल नहीं एक पहेली है
मेरी मंजिल तू नहीं तेरी सहेली है...।।

"तुम थोड़ी सी ‪फुलझड़ी‬ क्या हुई
पूरा मौहल्ला ही ‪माचिस‬ हो गया...।।

"मोहब्बत करली तुमसे बहुत सोचने के बाद
अब किसी को देखना नहीं तुम्हे देखने के बाद
दुनिया छोड़ देंगे तुम्हे पाने के बाद
खुदा माफ़ करे इतना झूठ बोलने के बाद...।।

"दिल का दर्द दिल तोड़ने वाला क्या जाने
प्यार के रिवाज़ों को ये ज़माना क्या जाने
कितनी तकलीफ़ होती है लड़की पटाने में
यह घर बैठा लड़की का बाप क्या जाने...।।

"हम हम हैं तुम तुम हो
ना तुम कम हो ना हम कम हैं
तो किस बात का गम है SMS भेजते रहो
तभी तो लगेगा कि मोबाइल वाली में दम है...।।

"ये जो लड़कियों के बाल होते हैं
लड़कों को फ़साने के जाल होते हैं
खून चूस लेती हैं लड़कों का सारा
तभी तो इनके होंठ लाल होते हैं...।।

"अपने दिल में रहने दो ना मुझे
कसम से बाहर बहुत गर्मी है...।।

"पता नहीं आज कल लोग बड़ा सताने लगे
मुझे भाई और तुम्हें भाभी कहने लगे...।।

"सावन आते ही मुरझाए फूल भी खिल जाते हैं
SMS फ्री क्या हुए तुम जैसे फोकट में शायर बन जाते हैं...।।

"बैठ कर अपनी महबूबा की जुल्फों के साए में ऐसा जोश आया
वाह वाह! वाह वाह!
फिर… फिर..?
……
……
……
उसके बाप ने देख लिया और I.C.U. में होश आया...।।

"कसम से हर एक लड़की भुला दूंगा
सब ही की तस्वीरें जला दूंगा
एक तुम ही रहोगी इस दिल में
बैलेंस डलवा दो बहुत दुआ दूंगा...।।

"कहने को तो कीचड़ मे भी हम कमल खिला दे
मगर कुछ सोच के रुक जाते हैं
तुम कांटो मे जीने की बात करते हो
हम तो कांटो को भी फूल बना देते हैं...।।

"न चांद होगा ना तारे होंगे
क्या हम इस साल भी कुंवारे होंगे
इस दुनिया में कितनों के निकाह हो गए
क्या हमारे नसीब में सिर्फ निकाह के छुहारे होंगे...।।

"आयेंगे तेरी गली में चाहे देर क्यू न हो जाये
करेंगे मोहब्बत तुझसे ही चाहे जेल क्यू न हो जाये...।।

"ऐसी वाणी बोलिए जमकर झगड़ा होए ऐसी वाणी
बोलिए जमकर झगड़ा होए पर उससे ना बोलिए जो आपसे तगड़ा होए...।।

"आलू क्या गोभी भी खाया करो
आलू क्या गोभी भी खाया करो
उस गली में रहने वाली
कभी कभी हमारी गली भी आया करो...।।

"जिस चेहरे को देख कर हस्ते थे हम
आज उसीने ‘रुला दिया’ खुद ने तो फोन किया नही
हमने किया तो कॉलर ट्यून… ‘तुझे भुला दिया’...।।

"कितना ही जानलेवा फिगर क्यों न हो तेरा.. पर सुन पगली
ईतना मत ईतरा हमारी तारीफ के बीना सब अधूरा है...।।

"सितम ढाने की भी हद होती है
पास ना आने और रूठ जाने की भी हद होती है
एक डेट तो कर ले जालिम
पैसा बचाने की भी हद होती है...।।

"मुहब्बत ना सही मुकदमा ही कर दे
तारीख दर तारीखमुलाकात तो होगी...।।

"आपकी याद में एक शायर अर्ज़ किया है
आज है मंगल कल था पीर-वह-वह
कभी तो कुछ भेजा कर फकीर...।।

"अर्ज किया है...
हटा लो अपने चेहरे से ये जुल्फे
ऐ जाने तमन्ना.... खुदा कसम...
अगली बार खाने में बाल आया तो
सजनी से गजनी बना दूंगा...।।

"अर्ज़ किया है...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
गौर फरमाइएगा...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
अच्छी तभी लगती है जब दूसरे की होती है...।।

"मुझसे वो कहती है कि तुम्हारी जिन्दगी को जन्नत बना दूंगी
जब की बनाना उसे दाल , चावल भी नही...।।

"पति - मुझे अजीब सी बीमारी हुई है
मेरी बीवी जब बोलती है तो मुझे सुनाई नहीं देता
हकीम - माशाल्लाह ये बीमारी नहीं
ये तुम पर खुदा की रहमत...।।

"एक थी चाय एक था बिस्किट फिर मत पूछो क्या हुआ
डूब गया बेचारा बिस्किट चाय के इश्क में...।।

"चूहे को लगी बिल्ली गोरी गोरी
दोनों मिलने लगे चोरी चोरी
चूहा बुलाया आओ खेलें आँख मिचोली
बिल्ली चूहे को खा कर बोली. jaanu sorry...।।

"जुल्फों में फूलों को सजा के आयी
चेहरे से दुपट्टा उठा के आयी
किसी ने पूछा आज बड़ी खुबसूरत लग रही है
हमने कहा शायद आज नहा के आयी...।।

"आप दिल पर न मेरे यूँ वार कीजिये
छोड़ो ये नफरत थोड़ा प्यार कीजिये
करवा देंगे हम आपकी अच्छी जगह शादी
तब तक हमारे साथ आँखें चार कीजिये...।।

"गर्लफ्रेड : अरे जानु कोई फनी शायरी
सुनाओ ना
बॉयफ्रेंड - डायन सा चेहरा तेरा
चूडेल सी तेरी मुस्कान है
रंग तेरा देख के
रूप तेरा देख के
भेंस भी हैरान है...।।

"उसने कहा कि मुझे मोहब्बत की सजा दो
मैंने जाके सब कुछ उसकी मम्मी को बता दिया...।।

"दोस्ती बुरी हो तो होने उसे मत दो
अगर हो गयी तो उसे खोने मत दो
और अगर दोस्त हो सबसे प्यारा तो
उसे चैन की नींद सोने मत दो...।।

"मोहब्बत हो गई है डाकू सुल्ताना के बेटी से
न जाने किस गली में ज़िन्दगी की शाम हो जाये...।।

"मेरा दोस्त मुझसे यह कह कर दूर चला गया फ़राज़
कि दोस्ती दूर की अच्छी रोटी तंदूर की अच्छी...।।

"पहली बार किसी चेहरे पर निगाह ठहरी है
उसकी आंखे सागर से भी गहरी है
थक गया मैं अपने प्यार का इजहार
करते करते तब पता चला कि वो तो बहरी है...।।

"तू सवाल नहीं एक पहेली है
मेरी मंजिल तू नहीं तेरी सहेली है...।।

"तुम थोड़ी सी ‪फुलझड़ी‬ क्या हुई
पूरा मौहल्ला ही ‪माचिस‬ हो गया...।।

"मोहब्बत करली तुमसे बहुत सोचने के बाद
अब किसी को देखना नहीं तुम्हे देखने के बाद
दुनिया छोड़ देंगे तुम्हे पाने के बाद
खुदा माफ़ करे इतना झूठ बोलने के बाद...।।

"दिल का दर्द दिल तोड़ने वाला क्या जाने
प्यार के रिवाज़ों को ये ज़माना क्या जाने
कितनी तकलीफ़ होती है लड़की पटाने में
यह घर बैठा लड़की का बाप क्या जाने...।।

"हम हम हैं तुम तुम हो
ना तुम कम हो ना हम कम हैं
तो किस बात का गम है SMS भेजते रहो
तभी तो लगेगा कि मोबाइल वाली में दम है...।।

"ये जो लड़कियों के बाल होते हैं
लड़कों को फ़साने के जाल होते हैं
खून चूस लेती हैं लड़कों का सारा
तभी तो इनके होंठ लाल होते हैं...।।

"अपने दिल में रहने दो ना मुझे
कसम से बाहर बहुत गर्मी है...।।

"पता नहीं आज कल लोग बड़ा सताने लगे
मुझे भाई और तुम्हें भाभी कहने लगे...।।

"सावन आते ही मुरझाए फूल भी खिल जाते हैं
SMS फ्री क्या हुए तुम जैसे फोकट में शायर बन जाते हैं...।।

"बैठ कर अपनी महबूबा की जुल्फों के साए में ऐसा जोश आया
वाह वाह! वाह वाह!
फिर… फिर..?
……
……
……
उसके बाप ने देख लिया और I.C.U. में होश आया...।।

"कसम से हर एक लड़की भुला दूंगा
सब ही की तस्वीरें जला दूंगा
एक तुम ही रहोगी इस दिल में
बैलेंस डलवा दो बहुत दुआ दूंगा...।।

"कहने को तो कीचड़ मे भी हम कमल खिला दे
मगर कुछ सोच के रुक जाते हैं
तुम कांटो मे जीने की बात करते हो
हम तो कांटो को भी फूल बना देते हैं...।।

"न चांद होगा ना तारे होंगे
क्या हम इस साल भी कुंवारे होंगे
इस दुनिया में कितनों के निकाह हो गए
क्या हमारे नसीब में सिर्फ निकाह के छुहारे होंगे...।।

"आयेंगे तेरी गली में चाहे देर क्यू न हो जाये
करेंगे मोहब्बत तुझसे ही चाहे जेल क्यू न हो जाये...।।

"ऐसी वाणी बोलिए जमकर झगड़ा होए ऐसी वाणी
बोलिए जमकर झगड़ा होए पर उससे ना बोलिए जो आपसे तगड़ा होए...।।

"आलू क्या गोभी भी खाया करो
आलू क्या गोभी भी खाया करो
उस गली में रहने वाली
कभी कभी हमारी गली भी आया करो...।।

"जिस चेहरे को देख कर हस्ते थे हम
आज उसीने ‘रुला दिया’ खुद ने तो फोन किया नही
हमने किया तो कॉलर ट्यून… ‘तुझे भुला दिया’...।।

"कितना ही जानलेवा फिगर क्यों न हो तेरा.. पर सुन पगली
ईतना मत ईतरा हमारी तारीफ के बीना सब अधूरा है...।।

"सितम ढाने की भी हद होती है
पास ना आने और रूठ जाने की भी हद होती है
एक डेट तो कर ले जालिम
पैसा बचाने की भी हद होती है...।।

"मुहब्बत ना सही मुकदमा ही कर दे
तारीख दर तारीखमुलाकात तो होगी...।।

"आपकी याद में एक शायर अर्ज़ किया है
आज है मंगल कल था पीर-वह-वह
कभी तो कुछ भेजा कर फकीर...।।

"अर्ज किया है...
हटा लो अपने चेहरे से ये जुल्फे
ऐ जाने तमन्ना.... खुदा कसम...
अगली बार खाने में बाल आया तो
सजनी से गजनी बना दूंगा...।।

"अर्ज़ किया है...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
गौर फरमाइएगा...
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है
अच्छी तभी लगती है जब दूसरे की होती है...।।

"मुझसे वो कहती है कि तुम्हारी जिन्दगी को जन्नत बना दूंगी
जब की बनाना उसे दाल , चावल भी नही...।।

"पति - मुझे अजीब सी बीमारी हुई है
मेरी बीवी जब बोलती है तो मुझे सुनाई नहीं देता
हकीम - माशाल्लाह ये बीमारी नहीं
ये तुम पर खुदा की रहमत...।।

"एक थी चाय एक था बिस्किट फिर मत पूछो क्या हुआ
डूब गया बेचारा बिस्किट चाय के इश्क में...।।

"चूहे को लगी बिल्ली गोरी गोरी
दोनों मिलने लगे चोरी चोरी
चूहा बुलाया आओ खेलें आँख मिचोली
बिल्ली चूहे को खा कर बोली. jaanu sorry...।।

"जुल्फों में फूलों को सजा के आयी
चेहरे से दुपट्टा उठा के आयी
किसी ने पूछा आज बड़ी खुबसूरत लग रही है
हमने कहा शायद आज नहा के आयी...।।

"आप दिल पर न मेरे यूँ वार कीजिये
छोड़ो ये नफरत थोड़ा प्यार कीजिये
करवा देंगे हम आपकी अच्छी जगह शादी
तब तक हमारे साथ आँखें चार कीजिये...।।

"गर्लफ्रेड : अरे जानु कोई फनी शायरी
सुनाओ ना
बॉयफ्रेंड - डायन सा चेहरा तेरा
चूडेल सी तेरी मुस्कान है
रंग तेरा देख के
रूप तेरा देख के
भेंस भी हैरान है...।।

"उसने कहा कि मुझे मोहब्बत की सजा दो
मैंने जाके सब कुछ उसकी मम्मी को बता दिया...।।

"दोस्ती बुरी हो तो होने उसे मत दो
अगर हो गयी तो उसे खोने मत दो
और अगर दोस्त हो सबसे प्यारा तो
उसे चैन की नींद सोने मत दो...।।

"मोहब्बत हो गई है डाकू सुल्ताना के बेटी से
न जाने किस गली में ज़िन्दगी की शाम हो जाये...।।

"मेरा दोस्त मुझसे यह कह कर दूर चला गया फ़राज़
कि दोस्ती दूर की अच्छी रोटी तंदूर की अच्छी...।।

"पहली बार किसी चेहरे पर निगाह ठहरी है
उसकी आंखे सागर से भी गहरी है
थक गया मैं अपने प्यार का इजहार
करते करते तब पता चला कि वो तो बहरी है...।।

"तू सवाल नहीं एक पहेली है
मेरी मंजिल तू नहीं तेरी सहेली है...।।

"तुम थोड़ी सी ‪फुलझड़ी‬ क्या हुई
पूरा मौहल्ला ही ‪माचिस‬ हो गया...।।

"मोहब्बत करली तुमसे बहुत सोचने के बाद
अब किसी को देखना नहीं तुम्हे देखने के बाद
दुनिया छोड़ देंगे तुम्हे पाने के बाद
खुदा माफ़ करे इतना झूठ बोलने के बाद...।।

"दिल का दर्द दिल तोड़ने वाला क्या जाने
प्यार के रिवाज़ों को ये ज़माना क्या जाने
कितनी तकलीफ़ होती है लड़की पटाने में
यह घर बैठा लड़की का बाप क्या जाने...।।

"हम हम हैं तुम तुम हो
ना तुम कम हो ना हम कम हैं
तो किस बात का गम है SMS भेजते रहो
तभी तो लगेगा कि मोबाइल वाली में दम है...।।

"ये जो लड़कियों के बाल होते हैं
लड़कों को फ़साने के जाल होते हैं
खून चूस लेती हैं लड़कों का सारा
तभी तो इनके होंठ लाल होते हैं...।।

"अपने दिल में रहने दो ना मुझे
कसम से बाहर बहुत गर्मी है...।।

"पता नहीं आज कल लोग बड़ा सताने लगे
मुझे भाई और तुम्हें भाभी कहने लगे...।।

"सावन आते ही मुरझाए फूल भी खिल जाते हैं
SMS फ्री क्या हुए तुम जैसे फोकट में शायर बन जाते हैं...।।

"बैठ कर अपनी महबूबा की जुल्फों के साए में ऐसा जोश आया
वाह वाह! वाह वाह!
फिर… फिर..?
……
……
……
उसके बाप ने देख लिया और I.C.U. में होश आया...।।

"कसम से हर एक लड़की भुला दूंगा
सब ही की तस्वीरें जला दूंगा
एक तुम ही रहोगी इस दिल में
बैलेंस डलवा दो बहुत दुआ दूंगा...।।

"कहने को तो कीचड़ मे भी हम कमल खिला दे
मगर कुछ सोच के रुक जाते हैं
तुम कांटो मे जीने की बात करते हो
हम तो कांटो को भी फूल बना देते हैं...।।

"न चांद होगा ना तारे होंगे
क्या हम इस साल भी कुंवारे होंगे
इस दुनिया में कितनों के निकाह हो गए
क्या हमारे नसीब में सिर्फ निकाह के छुहारे होंगे...।।

"आयेंगे तेरी गली में चाहे देर क्यू न हो जाये
करेंगे मोहब्बत तुझसे ही चाहे जेल क्यू न हो जाये...।।

"ऐसी वाणी बोलिए जमकर झगड़ा होए ऐसी वाणी
बोलिए जमकर झगड़ा होए पर उससे ना बोलिए जो आपसे तगड़ा होए...।।

"आलू क्या गोभी भी खाया करो
आलू क्या गोभी भी खाया करो
उस गली में रहने वाली
कभी कभी हमारी गली भी आया करो...।।

"जिस चेहरे को देख कर हस्ते थे हम
आज उसीने ‘रुला दिया’ खुद ने तो फोन किया नही
हमने किया तो कॉलर ट्यून… ‘तुझे भुला दिया’...।।

"कितना ही जानलेवा फिगर क्यों न हो तेरा.. पर सुन पगली
ईतना मत ईतरा हमारी तारीफ के बीना सब अधूरा है...।।

Loading...