"क्यूँ मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त
क्यूँ गम को बाँट लेते हैं दोस्त
न रिश्ता खून का न रिवाज से बंधा है
फिर भी ज़िन्दगी भर साथ देते हैं दोस्त...!!
kyoon mushkilon mein saath dete hain dost kyoon gam ko baant lete hain dost na rishta khoon ka na rivaaj se bandha hai

"चाँद की हद १ रात तक है
सूरज की हद सिर्फ दिन तक है
हम दोस्ती में दिन-रात नहीं देखते
क्यूंकि हमारी दोस्ती की हद आखरी साँस तक है...!!
chaand kee had 1 raat tak hai sooraj kee had sirph din tak hai ham dostee mein din-raat nahin dekhate

"दोस्ती अच्छी हो तो रंग़ लाती है
दोस्ती गहरी हो तो सबको भाती है
दोस्ती नादान हो तो टूट जाती है
पर अगर दोस्ती अपने जैसी हो तो इतिहास बनाती है...!!
dostee achchhee ho to rang laatee hai dostee gaharee ho to sabako bhaatee hai dostee naadaan ho to toot jaatee hai

"तेरी मुस्कराहट मेरी पहचान थी
तेरी ख़ुशी मेरी साँस थी
कुछ भी नहीं तेरे बिना मेरी जिंदगी में
बस इतना समझ ले
तेरी दोस्ती ही मेरी जान थी...!!
teree muskaraahat meree pahachaan thee teree khushee meree saans thee kuchh bhee nahin tere bina meree jindagee mein

"होस्टल की चार दिवारी में जो साथ सपने बुनते थे
चिल्लर चिल्लर का हिसाब कर जो आपस में लड़ते थे
आज लाखो की सेलेरी लिए राह तकते बैठे हैं
आज उन दिनों की चाह में वो नुक्कड़ पर चाय लिये बैठे हैं...!!
hostal kee chaar divaaree mein jo saath sapane bunate the

"रखते हैं मूँछो को ताव देकर
दोस्ती निभाते हैं जान देकर
खौफ खाती है दुनिया हमसे
क्यूँकि हम जीते हैं शेर की दहाड़ लेकर...!!
rakhate hain moonchho ko taav dekar dostee nibhaate hain jaan dekar khauph khaatee hai duniya hamase

"वक्त बदलता हैं
कोई पास, कोई दूर हो जाता हैं
लेकिन जो यादों में भी हँसा जाये
वो ही बेस्ट फ्रेंड कहलाता हैं...!!
vakt badalata hain koee paas koee door ho jaata hain lekin jo yaadon mein bhee hansa jaaye vo hee best phrend kahalaata hain

"अच्छा दोस्त वो है जो महफ़िल में
आपकी गलतियों को छुपाए और
तन्हाई में आपकी गलतियों को आपसे बयां करे...!!
achchha dost vo hai jo mahafil mein aapakee galatiyon ko chhupae aur tanhaee mein aapakee galatiyon ko aapase bayaan kare

"दोस्ती भी क्या गज़ब की चीज़ होती है
मगर ये भी बहुत कम लोगों को नसीब होती है
जो पकड़ लेते है ज़िन्दगी में दामन इसका
समझ लो के जन्नत उनके बिलकुल करीब होती है...!!
dostee bhee kya gazab kee cheez hotee hai magar ye bhee bahut kam logon ko naseeb hotee hai

"मांगी थी दुआ हमने रब से
देना मुझे दोस्त, जो अलग हो सबसे
उसने मिला दिया हमें आपसे और कहा
सम्भालो इन्हे, ये अनमोल है सबसे...!!
maangee thee dua hamane rab se dena mujhe dost jo alag ho sabase usane mila diya hamen aapase aur kaha sambhaalo inhe ye anamol hai sabase

"गुनाह करके सजा से डरते है
ज़हर पी के दवा से डरते है
दुश्मनो के सितम का खौफ नहीं हमे
हम तो दोस्तों के खफा होने से डरते है...!!

"ए सुदामा
मुझे भी सिखा दें
कोई हुनर तेरे जैसा
मुझे भी मिल जायेगा
फिर कोई दोस्त कृष्ण जैसा...!!

"जमाने से कब के गुजर गए होते
ठोकर ना लगी होती बच गए होते
बंधे थे बस दोस्ती के धागों में
वरना कब के बिखर गए होते...!!

"गुलाब खिलते रहे ज़िंदगी की राह् में
हँसी चमकती रहे आप कि निगाह में
खुशी कि लहर मिलें हर कदम पर आपको
देता हे ये दिल दुआ बार–बार आपको...!!

"इश्क़ और दोस्ती मेरे दो जहान है
इश्क़ मेरी रूह, तो दोस्ती मेरा ईमान है
इश्क़ पर तो फ़िदा कर दूँ अपनी पूरी ज़िंदगी
पर दोस्ती पर तो मेरा इश्क़ भी कुर्बान है...!!

"सच्ची दोस्ती बेजुबान होती है
यह आंखों से बयां और दिल में अहसास होती है
दोस्ती में दर्द मिले तो क्या
दर्द में ही दोस्त की पहचान होती है...!!

"सादगी किसी श्रृंगार से कम नहीं होती
चिंगारी किसी अंगार से कम नहीं होती
ये तो अपनी अपनी सोच का फर्क है वर्ना
दोस्ती किसी प्यार से कम नहीं होती...!!

"सवाल पानी का नही प्यास का है
सवाल मौत का नही साँसो का है
दोस्त तो बहुत है दुनिया मै
मगर सवाल दोस्ती का नही विश्वास का है...!!

"कोई इतना चाहे तो बताना
कोई इतने नाज तुम्‍हारे उठाए तो बताना
दोस्‍ती तो हर कोई कर लेगा तुमसे
कोई हमारी तरह निभाए तो बताना...!!

"हमें कोई बुलाये या ना बुलाये हम सबको बुलाते है
हमें कोई चाहे या ना चाहे हम सबको चाहते है
हमें कोई दोस्त बनाये या ना बनाये पर
हम सबको अपना दोस्त बनाते है...!!

"मुझे न सर पर ताज चाहिए
ना दुनिया पर राज चाहिए
बस इतनी ही दुआ है ऊपर वाले से की
मेरे दोस्त हमेशा मेरे पास चाहिए...!!

"दोस्ती कोई खोज नहीं होती
दोस्ती किसी से हर रोज नहीं होती
अपनी जिंदगी में हमारी मौजूदगी को बेवज न समझना
क्योंकि पलकें आखों पर कभी बोझ नहीं होतीं...!!

"दोस्ती नज़रो से हो तो उसे कुदरत कहते है
सितारों से हो तो उसे जन्नत कहते है
हुस्न से होतो उसे मोहब्बत कहते है
और दोस्ती आपसे हो तो उसे किस्मत कहते है...!!

"दोस्त ही तो होते हैं असली दौलत
यूँ तो पूरी ज़िन्दगी पड़ी है पैसे कमाने को...!!

"दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है
दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना
क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है...!!

"एक चाहत होती है दोस्तों के साथ जीने की जनाब
वरना पता तो हमे भी है की मरना अकेले ही है...!!

"ऐ दोस्त जब भी तू उदास होगा
मेरा ख्याल तेरे आस-पास होगा
दिल की गहराईयों से जब भी करोगे याद हमें
तुम्हें.. हमारे करीब होने का एहसास होगा...!!

"रिश्तों की सिलाई
अगर भावनाओं से हुई है, तो टूटना मुश्किल है
और अगर स्वार्थ से हुई है, तो टिकना मुश्किल है...!!

"दोस्ती करो तो धोखा मत देना
किसी को आँसुओ का तोहफा मत देना
दिल से रोये कोई तुम्हे याद करके
ऐसा कभी किसी को मौका मत देना...!!

"करनी है खुदा से गुजारिश
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा
या फिर कभी जिंदगी न मिले...!!

"दोस्त दिल की हर बात समझ जाया करते हैं
सुख दुःख के हर पल में साथ हुआ करते है
दोस्त तो मिला करते है तक़दीर वालो को
मिले ऐसी तक़दीर हर बार हम दुआ करते है...!!

"कल फिर यही समा होगा
हम में से कौन ना जाने कहा होगा
मुरझाये फूल तो मिल जायेंगे किताबों में
पर बिछड़े दोस्त का शायद ही कोई पता होगा...!!

"दिन हुआ है तो रात भी होगी
हो मत उदास, कभी बात भी होगी
इतने प्यार से दोस्ती की है
जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी...!!

"दोस्ती से बड़ी चाहत क्या होगी
दोस्ती से बड़ी इबादत क्या होगी
जिसे दोस्त मिल जाये आप जैसा
उसे ज़िंदगी से शिकायत क्या होगी...!!

"हम दोस्तों के होते बुरा टाइम नही आ सकता
अगर आ भी जाए तो
हमारी दोस्ती के आगे नही टिक सकता...!!

"हर शक को यकीन में बदलते हैँ दोस्त
राह चलते पोपट बनाते हैं दोस्त
कोलड्रिंक बोल के कुछ और पिला देते हैं दोस्त
पर कुछ भी हो हमेशा बहुत याद आते हैं दोस्त...!!

"सिर्फ प्यार करने वाले ही नहीं होते
जो एक दुसरे को खोना नहीं चाहते
कुछ हम जैसे भी होते है
जिनकी जान दोस्तों में होती है...!!

"सच्ची है मेरी दोस्ती आजमा के देखलो
करके यकीं मुझपे मेरे पास आके देखलो
बदलता नहीं कभी सोना अपना रंग
जितनी बार दिल करे आग लगा कर देखलो...!!

"कुछ देर का इंतज़ार मिला हमको
पर सब से स्वीट यार मिला है हमको
ना रही तमन्ना किसी और की
तेरी दोस्ती से वो प्यार मिला है हमको...!!

"कितनी छोटी सी दुनिया है मेरी
एक मै हूँ और एक मेरा पागल दोस्त...!!

"देखी जो नब्ज मेरी
हँस कर बोला वो हकीम
जा जमा ले महफिल पुराने दोस्तों के साथ
तेरे हर दर्द की दवा वही है...!!

"दोस्ती दर्द नहीं खुशियों की सौगात है
किसी अपने का ज़िंदगी भर का साथ है
ये तो दिलों का वो खूबसूरत एहसास है
जिसके दम से रौशन ये सारी कायनात है...!!

"ऐ बारिश जरा थम के बरस
जब मेरा यार आए तो जम के बरस
पहले न बरस कि वो आ न सके
फिर इतना बरस कि वो जा न सके...!!

"लोग दौलत देखते हैं, हम इज़्ज़त देखते हैं
लोग मंज़िल देखते हैं, हम सफ़र देखते हैं
लोग दोस्ती बनाते हैं, हम उसे निभाते हैं...!!

"कौन कहता है कि दोस्ती बराबरी में होती है
सच तो ये है दोस्ती में सब बराबर होते है...!!

"ज़िन्दगी हर पल खास नहीं होती
फूलों की खुशबू हमेशा पास नहीं होती
मिलना हमारी तकदीर में लिखा था वरना
इतनी प्यारी दोस्ती कभी इतेफाक नहीं होती...!!

"वो दिल क्या जो मिलने की दुआ न करे
तुम्हें भुलकर जिऊ यह खुदा न करे
रहे तेरी दोस्ती मेरी जिन्दगानी बनकर
यह बात और है जिन्दगी वफा न करे...!!

"कोई दोस्त कभी पुराना नहीं होता
कुछ दिन बात ना करने से बेगाना नहीं होता
दोस्ती में दूरी तो आती रहती है
पर दूरी का मतलब भुलाना नहीं होता...!!

"किस हद तक जाना है यह कौन जानता है
कौनसी मंजिल पाना है यह कौन जानता है
दोस्ती के ये पल जीभर के जी लो
किस रोज बिछड़ जाएं ये कौन जानता है...!!

"शायद फिर वो तक़दीर मिल जाये
जीवन के वो हसीं पल मिल जाये
चल फिर से बैठें वो क्लास कि लास्ट बैंच पे
शायद फिर से वो पुराने दोस्त मिल जाएँ...!!

"दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहता है
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहता है
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ गुजारो तो सही
वो अफ़साना मौत तक याद रहता है...!!

"क्यूँ मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त
क्यूँ गम को बाँट लेते हैं दोस्त
न रिश्ता खून का न रिवाज से बंधा है
फिर भी ज़िन्दगी भर साथ देते हैं दोस्त...!!

"चाँद की हद १ रात तक है
सूरज की हद सिर्फ दिन तक है
हम दोस्ती में दिन-रात नहीं देखते
क्यूंकि हमारी दोस्ती की हद आखरी साँस तक है...!!

"दोस्ती अच्छी हो तो रंग़ लाती है
दोस्ती गहरी हो तो सबको भाती है
दोस्ती नादान हो तो टूट जाती है
पर अगर दोस्ती अपने जैसी हो तो इतिहास बनाती है...!!

"तेरी मुस्कराहट मेरी पहचान थी
तेरी ख़ुशी मेरी साँस थी
कुछ भी नहीं तेरे बिना मेरी जिंदगी में
बस इतना समझ ले
तेरी दोस्ती ही मेरी जान थी...!!

"होस्टल की चार दिवारी में जो साथ सपने बुनते थे
चिल्लर चिल्लर का हिसाब कर जो आपस में लड़ते थे
आज लाखो की सेलेरी लिए राह तकते बैठे हैं
आज उन दिनों की चाह में वो नुक्कड़ पर चाय लिये बैठे हैं...!!

"रखते हैं मूँछो को ताव देकर
दोस्ती निभाते हैं जान देकर
खौफ खाती है दुनिया हमसे
क्यूँकि हम जीते हैं शेर की दहाड़ लेकर...!!

"वक्त बदलता हैं
कोई पास, कोई दूर हो जाता हैं
लेकिन जो यादों में भी हँसा जाये
वो ही बेस्ट फ्रेंड कहलाता हैं...!!

"अच्छा दोस्त वो है जो महफ़िल में
आपकी गलतियों को छुपाए और
तन्हाई में आपकी गलतियों को आपसे बयां करे...!!

"दोस्ती भी क्या गज़ब की चीज़ होती है
मगर ये भी बहुत कम लोगों को नसीब होती है
जो पकड़ लेते है ज़िन्दगी में दामन इसका
समझ लो के जन्नत उनके बिलकुल करीब होती है...!!

"मांगी थी दुआ हमने रब से
देना मुझे दोस्त, जो अलग हो सबसे
उसने मिला दिया हमें आपसे और कहा
सम्भालो इन्हे, ये अनमोल है सबसे...!!

"गुनाह करके सजा से डरते है
ज़हर पी के दवा से डरते है
दुश्मनो के सितम का खौफ नहीं हमे
हम तो दोस्तों के खफा होने से डरते है...!!

"ए सुदामा
मुझे भी सिखा दें
कोई हुनर तेरे जैसा
मुझे भी मिल जायेगा
फिर कोई दोस्त कृष्ण जैसा...!!

"जमाने से कब के गुजर गए होते
ठोकर ना लगी होती बच गए होते
बंधे थे बस दोस्ती के धागों में
वरना कब के बिखर गए होते...!!

"गुलाब खिलते रहे ज़िंदगी की राह् में
हँसी चमकती रहे आप कि निगाह में
खुशी कि लहर मिलें हर कदम पर आपको
देता हे ये दिल दुआ बार–बार आपको...!!

"इश्क़ और दोस्ती मेरे दो जहान है
इश्क़ मेरी रूह, तो दोस्ती मेरा ईमान है
इश्क़ पर तो फ़िदा कर दूँ अपनी पूरी ज़िंदगी
पर दोस्ती पर तो मेरा इश्क़ भी कुर्बान है...!!

"सच्ची दोस्ती बेजुबान होती है
यह आंखों से बयां और दिल में अहसास होती है
दोस्ती में दर्द मिले तो क्या
दर्द में ही दोस्त की पहचान होती है...!!

"सादगी किसी श्रृंगार से कम नहीं होती
चिंगारी किसी अंगार से कम नहीं होती
ये तो अपनी अपनी सोच का फर्क है वर्ना
दोस्ती किसी प्यार से कम नहीं होती...!!

"सवाल पानी का नही प्यास का है
सवाल मौत का नही साँसो का है
दोस्त तो बहुत है दुनिया मै
मगर सवाल दोस्ती का नही विश्वास का है...!!

"कोई इतना चाहे तो बताना
कोई इतने नाज तुम्‍हारे उठाए तो बताना
दोस्‍ती तो हर कोई कर लेगा तुमसे
कोई हमारी तरह निभाए तो बताना...!!

"हमें कोई बुलाये या ना बुलाये हम सबको बुलाते है
हमें कोई चाहे या ना चाहे हम सबको चाहते है
हमें कोई दोस्त बनाये या ना बनाये पर
हम सबको अपना दोस्त बनाते है...!!

"मुझे न सर पर ताज चाहिए
ना दुनिया पर राज चाहिए
बस इतनी ही दुआ है ऊपर वाले से की
मेरे दोस्त हमेशा मेरे पास चाहिए...!!

"दोस्ती कोई खोज नहीं होती
दोस्ती किसी से हर रोज नहीं होती
अपनी जिंदगी में हमारी मौजूदगी को बेवज न समझना
क्योंकि पलकें आखों पर कभी बोझ नहीं होतीं...!!

"दोस्ती नज़रो से हो तो उसे कुदरत कहते है
सितारों से हो तो उसे जन्नत कहते है
हुस्न से होतो उसे मोहब्बत कहते है
और दोस्ती आपसे हो तो उसे किस्मत कहते है...!!

"दोस्त ही तो होते हैं असली दौलत
यूँ तो पूरी ज़िन्दगी पड़ी है पैसे कमाने को...!!

"दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है
दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना
क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है...!!

"एक चाहत होती है दोस्तों के साथ जीने की जनाब
वरना पता तो हमे भी है की मरना अकेले ही है...!!

"ऐ दोस्त जब भी तू उदास होगा
मेरा ख्याल तेरे आस-पास होगा
दिल की गहराईयों से जब भी करोगे याद हमें
तुम्हें.. हमारे करीब होने का एहसास होगा...!!

"रिश्तों की सिलाई
अगर भावनाओं से हुई है, तो टूटना मुश्किल है
और अगर स्वार्थ से हुई है, तो टिकना मुश्किल है...!!

"दोस्ती करो तो धोखा मत देना
किसी को आँसुओ का तोहफा मत देना
दिल से रोये कोई तुम्हे याद करके
ऐसा कभी किसी को मौका मत देना...!!

"करनी है खुदा से गुजारिश
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा
या फिर कभी जिंदगी न मिले...!!

"दोस्त दिल की हर बात समझ जाया करते हैं
सुख दुःख के हर पल में साथ हुआ करते है
दोस्त तो मिला करते है तक़दीर वालो को
मिले ऐसी तक़दीर हर बार हम दुआ करते है...!!

"कल फिर यही समा होगा
हम में से कौन ना जाने कहा होगा
मुरझाये फूल तो मिल जायेंगे किताबों में
पर बिछड़े दोस्त का शायद ही कोई पता होगा...!!

"दिन हुआ है तो रात भी होगी
हो मत उदास, कभी बात भी होगी
इतने प्यार से दोस्ती की है
जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी...!!

"दोस्ती से बड़ी चाहत क्या होगी
दोस्ती से बड़ी इबादत क्या होगी
जिसे दोस्त मिल जाये आप जैसा
उसे ज़िंदगी से शिकायत क्या होगी...!!

"हम दोस्तों के होते बुरा टाइम नही आ सकता
अगर आ भी जाए तो
हमारी दोस्ती के आगे नही टिक सकता...!!

"हर शक को यकीन में बदलते हैँ दोस्त
राह चलते पोपट बनाते हैं दोस्त
कोलड्रिंक बोल के कुछ और पिला देते हैं दोस्त
पर कुछ भी हो हमेशा बहुत याद आते हैं दोस्त...!!

"सिर्फ प्यार करने वाले ही नहीं होते
जो एक दुसरे को खोना नहीं चाहते
कुछ हम जैसे भी होते है
जिनकी जान दोस्तों में होती है...!!

"सच्ची है मेरी दोस्ती आजमा के देखलो
करके यकीं मुझपे मेरे पास आके देखलो
बदलता नहीं कभी सोना अपना रंग
जितनी बार दिल करे आग लगा कर देखलो...!!

"कुछ देर का इंतज़ार मिला हमको
पर सब से स्वीट यार मिला है हमको
ना रही तमन्ना किसी और की
तेरी दोस्ती से वो प्यार मिला है हमको...!!

"कितनी छोटी सी दुनिया है मेरी
एक मै हूँ और एक मेरा पागल दोस्त...!!

"देखी जो नब्ज मेरी
हँस कर बोला वो हकीम
जा जमा ले महफिल पुराने दोस्तों के साथ
तेरे हर दर्द की दवा वही है...!!

"दोस्ती दर्द नहीं खुशियों की सौगात है
किसी अपने का ज़िंदगी भर का साथ है
ये तो दिलों का वो खूबसूरत एहसास है
जिसके दम से रौशन ये सारी कायनात है...!!

"ऐ बारिश जरा थम के बरस
जब मेरा यार आए तो जम के बरस
पहले न बरस कि वो आ न सके
फिर इतना बरस कि वो जा न सके...!!

"लोग दौलत देखते हैं, हम इज़्ज़त देखते हैं
लोग मंज़िल देखते हैं, हम सफ़र देखते हैं
लोग दोस्ती बनाते हैं, हम उसे निभाते हैं...!!

"कौन कहता है कि दोस्ती बराबरी में होती है
सच तो ये है दोस्ती में सब बराबर होते है...!!

"ज़िन्दगी हर पल खास नहीं होती
फूलों की खुशबू हमेशा पास नहीं होती
मिलना हमारी तकदीर में लिखा था वरना
इतनी प्यारी दोस्ती कभी इतेफाक नहीं होती...!!

"वो दिल क्या जो मिलने की दुआ न करे
तुम्हें भुलकर जिऊ यह खुदा न करे
रहे तेरी दोस्ती मेरी जिन्दगानी बनकर
यह बात और है जिन्दगी वफा न करे...!!

"कोई दोस्त कभी पुराना नहीं होता
कुछ दिन बात ना करने से बेगाना नहीं होता
दोस्ती में दूरी तो आती रहती है
पर दूरी का मतलब भुलाना नहीं होता...!!

"किस हद तक जाना है यह कौन जानता है
कौनसी मंजिल पाना है यह कौन जानता है
दोस्ती के ये पल जीभर के जी लो
किस रोज बिछड़ जाएं ये कौन जानता है...!!

"शायद फिर वो तक़दीर मिल जाये
जीवन के वो हसीं पल मिल जाये
चल फिर से बैठें वो क्लास कि लास्ट बैंच पे
शायद फिर से वो पुराने दोस्त मिल जाएँ...!!

"दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहता है
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहता है
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ गुजारो तो सही
वो अफ़साना मौत तक याद रहता है...!!

"क्यूँ मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त
क्यूँ गम को बाँट लेते हैं दोस्त
न रिश्ता खून का न रिवाज से बंधा है
फिर भी ज़िन्दगी भर साथ देते हैं दोस्त...!!

"चाँद की हद १ रात तक है
सूरज की हद सिर्फ दिन तक है
हम दोस्ती में दिन-रात नहीं देखते
क्यूंकि हमारी दोस्ती की हद आखरी साँस तक है...!!

"दोस्ती अच्छी हो तो रंग़ लाती है
दोस्ती गहरी हो तो सबको भाती है
दोस्ती नादान हो तो टूट जाती है
पर अगर दोस्ती अपने जैसी हो तो इतिहास बनाती है...!!

"तेरी मुस्कराहट मेरी पहचान थी
तेरी ख़ुशी मेरी साँस थी
कुछ भी नहीं तेरे बिना मेरी जिंदगी में
बस इतना समझ ले
तेरी दोस्ती ही मेरी जान थी...!!

"होस्टल की चार दिवारी में जो साथ सपने बुनते थे
चिल्लर चिल्लर का हिसाब कर जो आपस में लड़ते थे
आज लाखो की सेलेरी लिए राह तकते बैठे हैं
आज उन दिनों की चाह में वो नुक्कड़ पर चाय लिये बैठे हैं...!!

"रखते हैं मूँछो को ताव देकर
दोस्ती निभाते हैं जान देकर
खौफ खाती है दुनिया हमसे
क्यूँकि हम जीते हैं शेर की दहाड़ लेकर...!!

"वक्त बदलता हैं
कोई पास, कोई दूर हो जाता हैं
लेकिन जो यादों में भी हँसा जाये
वो ही बेस्ट फ्रेंड कहलाता हैं...!!

"अच्छा दोस्त वो है जो महफ़िल में
आपकी गलतियों को छुपाए और
तन्हाई में आपकी गलतियों को आपसे बयां करे...!!

"दोस्ती भी क्या गज़ब की चीज़ होती है
मगर ये भी बहुत कम लोगों को नसीब होती है
जो पकड़ लेते है ज़िन्दगी में दामन इसका
समझ लो के जन्नत उनके बिलकुल करीब होती है...!!

"मांगी थी दुआ हमने रब से
देना मुझे दोस्त, जो अलग हो सबसे
उसने मिला दिया हमें आपसे और कहा
सम्भालो इन्हे, ये अनमोल है सबसे...!!

"गुनाह करके सजा से डरते है
ज़हर पी के दवा से डरते है
दुश्मनो के सितम का खौफ नहीं हमे
हम तो दोस्तों के खफा होने से डरते है...!!

"ए सुदामा
मुझे भी सिखा दें
कोई हुनर तेरे जैसा
मुझे भी मिल जायेगा
फिर कोई दोस्त कृष्ण जैसा...!!

"जमाने से कब के गुजर गए होते
ठोकर ना लगी होती बच गए होते
बंधे थे बस दोस्ती के धागों में
वरना कब के बिखर गए होते...!!

"गुलाब खिलते रहे ज़िंदगी की राह् में
हँसी चमकती रहे आप कि निगाह में
खुशी कि लहर मिलें हर कदम पर आपको
देता हे ये दिल दुआ बार–बार आपको...!!

"इश्क़ और दोस्ती मेरे दो जहान है
इश्क़ मेरी रूह, तो दोस्ती मेरा ईमान है
इश्क़ पर तो फ़िदा कर दूँ अपनी पूरी ज़िंदगी
पर दोस्ती पर तो मेरा इश्क़ भी कुर्बान है...!!

"सच्ची दोस्ती बेजुबान होती है
यह आंखों से बयां और दिल में अहसास होती है
दोस्ती में दर्द मिले तो क्या
दर्द में ही दोस्त की पहचान होती है...!!

"सादगी किसी श्रृंगार से कम नहीं होती
चिंगारी किसी अंगार से कम नहीं होती
ये तो अपनी अपनी सोच का फर्क है वर्ना
दोस्ती किसी प्यार से कम नहीं होती...!!

"सवाल पानी का नही प्यास का है
सवाल मौत का नही साँसो का है
दोस्त तो बहुत है दुनिया मै
मगर सवाल दोस्ती का नही विश्वास का है...!!

"कोई इतना चाहे तो बताना
कोई इतने नाज तुम्‍हारे उठाए तो बताना
दोस्‍ती तो हर कोई कर लेगा तुमसे
कोई हमारी तरह निभाए तो बताना...!!

"हमें कोई बुलाये या ना बुलाये हम सबको बुलाते है
हमें कोई चाहे या ना चाहे हम सबको चाहते है
हमें कोई दोस्त बनाये या ना बनाये पर
हम सबको अपना दोस्त बनाते है...!!

"मुझे न सर पर ताज चाहिए
ना दुनिया पर राज चाहिए
बस इतनी ही दुआ है ऊपर वाले से की
मेरे दोस्त हमेशा मेरे पास चाहिए...!!

"दोस्ती कोई खोज नहीं होती
दोस्ती किसी से हर रोज नहीं होती
अपनी जिंदगी में हमारी मौजूदगी को बेवज न समझना
क्योंकि पलकें आखों पर कभी बोझ नहीं होतीं...!!

"दोस्ती नज़रो से हो तो उसे कुदरत कहते है
सितारों से हो तो उसे जन्नत कहते है
हुस्न से होतो उसे मोहब्बत कहते है
और दोस्ती आपसे हो तो उसे किस्मत कहते है...!!

"दोस्त ही तो होते हैं असली दौलत
यूँ तो पूरी ज़िन्दगी पड़ी है पैसे कमाने को...!!

"दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है
दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना
क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है...!!

"एक चाहत होती है दोस्तों के साथ जीने की जनाब
वरना पता तो हमे भी है की मरना अकेले ही है...!!

"ऐ दोस्त जब भी तू उदास होगा
मेरा ख्याल तेरे आस-पास होगा
दिल की गहराईयों से जब भी करोगे याद हमें
तुम्हें.. हमारे करीब होने का एहसास होगा...!!

"रिश्तों की सिलाई
अगर भावनाओं से हुई है, तो टूटना मुश्किल है
और अगर स्वार्थ से हुई है, तो टिकना मुश्किल है...!!

"दोस्ती करो तो धोखा मत देना
किसी को आँसुओ का तोहफा मत देना
दिल से रोये कोई तुम्हे याद करके
ऐसा कभी किसी को मौका मत देना...!!

"करनी है खुदा से गुजारिश
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा
या फिर कभी जिंदगी न मिले...!!

"दोस्त दिल की हर बात समझ जाया करते हैं
सुख दुःख के हर पल में साथ हुआ करते है
दोस्त तो मिला करते है तक़दीर वालो को
मिले ऐसी तक़दीर हर बार हम दुआ करते है...!!

"कल फिर यही समा होगा
हम में से कौन ना जाने कहा होगा
मुरझाये फूल तो मिल जायेंगे किताबों में
पर बिछड़े दोस्त का शायद ही कोई पता होगा...!!

"दिन हुआ है तो रात भी होगी
हो मत उदास, कभी बात भी होगी
इतने प्यार से दोस्ती की है
जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी...!!

"दोस्ती से बड़ी चाहत क्या होगी
दोस्ती से बड़ी इबादत क्या होगी
जिसे दोस्त मिल जाये आप जैसा
उसे ज़िंदगी से शिकायत क्या होगी...!!

"हम दोस्तों के होते बुरा टाइम नही आ सकता
अगर आ भी जाए तो
हमारी दोस्ती के आगे नही टिक सकता...!!

"हर शक को यकीन में बदलते हैँ दोस्त
राह चलते पोपट बनाते हैं दोस्त
कोलड्रिंक बोल के कुछ और पिला देते हैं दोस्त
पर कुछ भी हो हमेशा बहुत याद आते हैं दोस्त...!!

"सिर्फ प्यार करने वाले ही नहीं होते
जो एक दुसरे को खोना नहीं चाहते
कुछ हम जैसे भी होते है
जिनकी जान दोस्तों में होती है...!!

"सच्ची है मेरी दोस्ती आजमा के देखलो
करके यकीं मुझपे मेरे पास आके देखलो
बदलता नहीं कभी सोना अपना रंग
जितनी बार दिल करे आग लगा कर देखलो...!!

"कुछ देर का इंतज़ार मिला हमको
पर सब से स्वीट यार मिला है हमको
ना रही तमन्ना किसी और की
तेरी दोस्ती से वो प्यार मिला है हमको...!!

"कितनी छोटी सी दुनिया है मेरी
एक मै हूँ और एक मेरा पागल दोस्त...!!

"देखी जो नब्ज मेरी
हँस कर बोला वो हकीम
जा जमा ले महफिल पुराने दोस्तों के साथ
तेरे हर दर्द की दवा वही है...!!

"दोस्ती दर्द नहीं खुशियों की सौगात है
किसी अपने का ज़िंदगी भर का साथ है
ये तो दिलों का वो खूबसूरत एहसास है
जिसके दम से रौशन ये सारी कायनात है...!!

"ऐ बारिश जरा थम के बरस
जब मेरा यार आए तो जम के बरस
पहले न बरस कि वो आ न सके
फिर इतना बरस कि वो जा न सके...!!

"लोग दौलत देखते हैं, हम इज़्ज़त देखते हैं
लोग मंज़िल देखते हैं, हम सफ़र देखते हैं
लोग दोस्ती बनाते हैं, हम उसे निभाते हैं...!!

"कौन कहता है कि दोस्ती बराबरी में होती है
सच तो ये है दोस्ती में सब बराबर होते है...!!

"ज़िन्दगी हर पल खास नहीं होती
फूलों की खुशबू हमेशा पास नहीं होती
मिलना हमारी तकदीर में लिखा था वरना
इतनी प्यारी दोस्ती कभी इतेफाक नहीं होती...!!

"वो दिल क्या जो मिलने की दुआ न करे
तुम्हें भुलकर जिऊ यह खुदा न करे
रहे तेरी दोस्ती मेरी जिन्दगानी बनकर
यह बात और है जिन्दगी वफा न करे...!!

"कोई दोस्त कभी पुराना नहीं होता
कुछ दिन बात ना करने से बेगाना नहीं होता
दोस्ती में दूरी तो आती रहती है
पर दूरी का मतलब भुलाना नहीं होता...!!

"किस हद तक जाना है यह कौन जानता है
कौनसी मंजिल पाना है यह कौन जानता है
दोस्ती के ये पल जीभर के जी लो
किस रोज बिछड़ जाएं ये कौन जानता है...!!

"शायद फिर वो तक़दीर मिल जाये
जीवन के वो हसीं पल मिल जाये
चल फिर से बैठें वो क्लास कि लास्ट बैंच पे
शायद फिर से वो पुराने दोस्त मिल जाएँ...!!

"दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहता है
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहता है
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ गुजारो तो सही
वो अफ़साना मौत तक याद रहता है...!!

"क्यूँ मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त
क्यूँ गम को बाँट लेते हैं दोस्त
न रिश्ता खून का न रिवाज से बंधा है
फिर भी ज़िन्दगी भर साथ देते हैं दोस्त...!!

"चाँद की हद १ रात तक है
सूरज की हद सिर्फ दिन तक है
हम दोस्ती में दिन-रात नहीं देखते
क्यूंकि हमारी दोस्ती की हद आखरी साँस तक है...!!

"दोस्ती अच्छी हो तो रंग़ लाती है
दोस्ती गहरी हो तो सबको भाती है
दोस्ती नादान हो तो टूट जाती है
पर अगर दोस्ती अपने जैसी हो तो इतिहास बनाती है...!!

"तेरी मुस्कराहट मेरी पहचान थी
तेरी ख़ुशी मेरी साँस थी
कुछ भी नहीं तेरे बिना मेरी जिंदगी में
बस इतना समझ ले
तेरी दोस्ती ही मेरी जान थी...!!

"होस्टल की चार दिवारी में जो साथ सपने बुनते थे
चिल्लर चिल्लर का हिसाब कर जो आपस में लड़ते थे
आज लाखो की सेलेरी लिए राह तकते बैठे हैं
आज उन दिनों की चाह में वो नुक्कड़ पर चाय लिये बैठे हैं...!!

"रखते हैं मूँछो को ताव देकर
दोस्ती निभाते हैं जान देकर
खौफ खाती है दुनिया हमसे
क्यूँकि हम जीते हैं शेर की दहाड़ लेकर...!!

"वक्त बदलता हैं
कोई पास, कोई दूर हो जाता हैं
लेकिन जो यादों में भी हँसा जाये
वो ही बेस्ट फ्रेंड कहलाता हैं...!!

"अच्छा दोस्त वो है जो महफ़िल में
आपकी गलतियों को छुपाए और
तन्हाई में आपकी गलतियों को आपसे बयां करे...!!

"दोस्ती भी क्या गज़ब की चीज़ होती है
मगर ये भी बहुत कम लोगों को नसीब होती है
जो पकड़ लेते है ज़िन्दगी में दामन इसका
समझ लो के जन्नत उनके बिलकुल करीब होती है...!!

"मांगी थी दुआ हमने रब से
देना मुझे दोस्त, जो अलग हो सबसे
उसने मिला दिया हमें आपसे और कहा
सम्भालो इन्हे, ये अनमोल है सबसे...!!

"गुनाह करके सजा से डरते है
ज़हर पी के दवा से डरते है
दुश्मनो के सितम का खौफ नहीं हमे
हम तो दोस्तों के खफा होने से डरते है...!!

"ए सुदामा
मुझे भी सिखा दें
कोई हुनर तेरे जैसा
मुझे भी मिल जायेगा
फिर कोई दोस्त कृष्ण जैसा...!!

"जमाने से कब के गुजर गए होते
ठोकर ना लगी होती बच गए होते
बंधे थे बस दोस्ती के धागों में
वरना कब के बिखर गए होते...!!

"गुलाब खिलते रहे ज़िंदगी की राह् में
हँसी चमकती रहे आप कि निगाह में
खुशी कि लहर मिलें हर कदम पर आपको
देता हे ये दिल दुआ बार–बार आपको...!!

"इश्क़ और दोस्ती मेरे दो जहान है
इश्क़ मेरी रूह, तो दोस्ती मेरा ईमान है
इश्क़ पर तो फ़िदा कर दूँ अपनी पूरी ज़िंदगी
पर दोस्ती पर तो मेरा इश्क़ भी कुर्बान है...!!

"सच्ची दोस्ती बेजुबान होती है
यह आंखों से बयां और दिल में अहसास होती है
दोस्ती में दर्द मिले तो क्या
दर्द में ही दोस्त की पहचान होती है...!!

"सादगी किसी श्रृंगार से कम नहीं होती
चिंगारी किसी अंगार से कम नहीं होती
ये तो अपनी अपनी सोच का फर्क है वर्ना
दोस्ती किसी प्यार से कम नहीं होती...!!

"सवाल पानी का नही प्यास का है
सवाल मौत का नही साँसो का है
दोस्त तो बहुत है दुनिया मै
मगर सवाल दोस्ती का नही विश्वास का है...!!

"कोई इतना चाहे तो बताना
कोई इतने नाज तुम्‍हारे उठाए तो बताना
दोस्‍ती तो हर कोई कर लेगा तुमसे
कोई हमारी तरह निभाए तो बताना...!!

"हमें कोई बुलाये या ना बुलाये हम सबको बुलाते है
हमें कोई चाहे या ना चाहे हम सबको चाहते है
हमें कोई दोस्त बनाये या ना बनाये पर
हम सबको अपना दोस्त बनाते है...!!

"मुझे न सर पर ताज चाहिए
ना दुनिया पर राज चाहिए
बस इतनी ही दुआ है ऊपर वाले से की
मेरे दोस्त हमेशा मेरे पास चाहिए...!!

"दोस्ती कोई खोज नहीं होती
दोस्ती किसी से हर रोज नहीं होती
अपनी जिंदगी में हमारी मौजूदगी को बेवज न समझना
क्योंकि पलकें आखों पर कभी बोझ नहीं होतीं...!!

"दोस्ती नज़रो से हो तो उसे कुदरत कहते है
सितारों से हो तो उसे जन्नत कहते है
हुस्न से होतो उसे मोहब्बत कहते है
और दोस्ती आपसे हो तो उसे किस्मत कहते है...!!

"दोस्त ही तो होते हैं असली दौलत
यूँ तो पूरी ज़िन्दगी पड़ी है पैसे कमाने को...!!

"दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है
दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना
क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है...!!

"एक चाहत होती है दोस्तों के साथ जीने की जनाब
वरना पता तो हमे भी है की मरना अकेले ही है...!!

"ऐ दोस्त जब भी तू उदास होगा
मेरा ख्याल तेरे आस-पास होगा
दिल की गहराईयों से जब भी करोगे याद हमें
तुम्हें.. हमारे करीब होने का एहसास होगा...!!

"रिश्तों की सिलाई
अगर भावनाओं से हुई है, तो टूटना मुश्किल है
और अगर स्वार्थ से हुई है, तो टिकना मुश्किल है...!!

"दोस्ती करो तो धोखा मत देना
किसी को आँसुओ का तोहफा मत देना
दिल से रोये कोई तुम्हे याद करके
ऐसा कभी किसी को मौका मत देना...!!

"करनी है खुदा से गुजारिश
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा
या फिर कभी जिंदगी न मिले...!!

"दोस्त दिल की हर बात समझ जाया करते हैं
सुख दुःख के हर पल में साथ हुआ करते है
दोस्त तो मिला करते है तक़दीर वालो को
मिले ऐसी तक़दीर हर बार हम दुआ करते है...!!

"कल फिर यही समा होगा
हम में से कौन ना जाने कहा होगा
मुरझाये फूल तो मिल जायेंगे किताबों में
पर बिछड़े दोस्त का शायद ही कोई पता होगा...!!

"दिन हुआ है तो रात भी होगी
हो मत उदास, कभी बात भी होगी
इतने प्यार से दोस्ती की है
जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी...!!

"दोस्ती से बड़ी चाहत क्या होगी
दोस्ती से बड़ी इबादत क्या होगी
जिसे दोस्त मिल जाये आप जैसा
उसे ज़िंदगी से शिकायत क्या होगी...!!

"हम दोस्तों के होते बुरा टाइम नही आ सकता
अगर आ भी जाए तो
हमारी दोस्ती के आगे नही टिक सकता...!!

"हर शक को यकीन में बदलते हैँ दोस्त
राह चलते पोपट बनाते हैं दोस्त
कोलड्रिंक बोल के कुछ और पिला देते हैं दोस्त
पर कुछ भी हो हमेशा बहुत याद आते हैं दोस्त...!!

"सिर्फ प्यार करने वाले ही नहीं होते
जो एक दुसरे को खोना नहीं चाहते
कुछ हम जैसे भी होते है
जिनकी जान दोस्तों में होती है...!!

"सच्ची है मेरी दोस्ती आजमा के देखलो
करके यकीं मुझपे मेरे पास आके देखलो
बदलता नहीं कभी सोना अपना रंग
जितनी बार दिल करे आग लगा कर देखलो...!!

"कुछ देर का इंतज़ार मिला हमको
पर सब से स्वीट यार मिला है हमको
ना रही तमन्ना किसी और की
तेरी दोस्ती से वो प्यार मिला है हमको...!!

"कितनी छोटी सी दुनिया है मेरी
एक मै हूँ और एक मेरा पागल दोस्त...!!

"देखी जो नब्ज मेरी
हँस कर बोला वो हकीम
जा जमा ले महफिल पुराने दोस्तों के साथ
तेरे हर दर्द की दवा वही है...!!

"दोस्ती दर्द नहीं खुशियों की सौगात है
किसी अपने का ज़िंदगी भर का साथ है
ये तो दिलों का वो खूबसूरत एहसास है
जिसके दम से रौशन ये सारी कायनात है...!!

"ऐ बारिश जरा थम के बरस
जब मेरा यार आए तो जम के बरस
पहले न बरस कि वो आ न सके
फिर इतना बरस कि वो जा न सके...!!

"लोग दौलत देखते हैं, हम इज़्ज़त देखते हैं
लोग मंज़िल देखते हैं, हम सफ़र देखते हैं
लोग दोस्ती बनाते हैं, हम उसे निभाते हैं...!!

"कौन कहता है कि दोस्ती बराबरी में होती है
सच तो ये है दोस्ती में सब बराबर होते है...!!

"ज़िन्दगी हर पल खास नहीं होती
फूलों की खुशबू हमेशा पास नहीं होती
मिलना हमारी तकदीर में लिखा था वरना
इतनी प्यारी दोस्ती कभी इतेफाक नहीं होती...!!

"वो दिल क्या जो मिलने की दुआ न करे
तुम्हें भुलकर जिऊ यह खुदा न करे
रहे तेरी दोस्ती मेरी जिन्दगानी बनकर
यह बात और है जिन्दगी वफा न करे...!!

"कोई दोस्त कभी पुराना नहीं होता
कुछ दिन बात ना करने से बेगाना नहीं होता
दोस्ती में दूरी तो आती रहती है
पर दूरी का मतलब भुलाना नहीं होता...!!

"किस हद तक जाना है यह कौन जानता है
कौनसी मंजिल पाना है यह कौन जानता है
दोस्ती के ये पल जीभर के जी लो
किस रोज बिछड़ जाएं ये कौन जानता है...!!

"शायद फिर वो तक़दीर मिल जाये
जीवन के वो हसीं पल मिल जाये
चल फिर से बैठें वो क्लास कि लास्ट बैंच पे
शायद फिर से वो पुराने दोस्त मिल जाएँ...!!

"दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहता है
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहता है
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ गुजारो तो सही
वो अफ़साना मौत तक याद रहता है...!!

Loading...